नरेंद्र मोदी पर भारी पड़ रहे हैं राहुल गांधी, जवाब तक नहीं देते मोदी!

modi vs rahul gandhi

इन्फोपत्रिका, नई दिल्ली.
अभी तक माना जा रहा था कि कांग्रेस के अध्यक्ष राहुल गांधी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के सामने कहीं नहीं टिकते, मगर अब मोदी vs राहुल की जंग मज़ेदार होती जा रही है. अब ये कहना भी गलत नहीं होगा कि सोशल मीडिया पर नरेंद्र मोदी पर राहुल गांधी भारी पड़ रहे हैं. राहुल गांधी और उनकी सोशल मीडिया टीम लगातार बीजेपी पर हमलावर है और एक भी मौका नहीं चूकती है.

शनिवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जहां ओडिशा के कटक में अपनी सरकार का 4 साल का रिपोर्ट कार्ड पेश किया तो राहुल गांधी ने भी मोदी सरकार को नंबर दिए.

पहले नजर डालते हैं PM के दावों पर

  • हमने JAM यानी जनधन, आधार और मोबाइल के माध्यम से 80 हजार करोड़ रुपये गलत हाथों में जाने से बचाए.
  • ये सरकार जनपथ से नहीं जनमत से चल रही है और कोई कन्फ्यूजन नहीं है बल्कि कमिटमेंट है.
  • भष्ट्राचार के खिलाफ मुहिम में 45 हजार करोड़ से ज्यादा अघोषित आय का पता चला है.
  • बेनामी संपत्ति लागू होने के बाद 3,500 करोड़ रुपये से ज्यादा की संपत्ति को जब्त किया जा चुका है. आज 4 पूर्व मुख्यमंत्री जेल में अंदर हैं.
  • बीते 4 वर्षों में 5 राज्यों से बढ़कर 20 राज्यों में हमारी सरकार बनी है. देश भर में बीजेपी के आज 1,500 से ज्यादा विधायक हैं.
  • बहनों माताओं को उज्ज्वला योजना ने धुएं से मुक्ति दिलाई. बेटियों की सुरक्षा और शिक्षा को बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ योजना ने मजबूती दी है.
  • हमने कड़े और बड़े फैसले लिए. सर्जिकल स्ट्राइक किया. वन रैंक वन पेंशन को मंजूरी दी. बेनामी संपत्ति कानून लागू हुआ.
  • 4 साल में 10 करोड़ से ज्यादा लोगों को गैस कनेक्शन दिए. गरीबों को जीवन बीमा और सुरक्षा बीमा दिया.
  • 2014 में 40 फीसदी आबादी स्वच्छता के दायरे में थी और अब यह ये दायरा 80 फीसदी हो चुका है.
  • राहुल गांधी ने मौका नहीं छोड़ा

    कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने 4 साल के कार्यकाल को कई मोर्चों पर विफल बताया. उन्होंने मोदी सरकार की कई मामलों पर ग्रेडिंग की. कांग्रेस अध्यक्ष ने ट्विटर पर ग्रेडिंग देते हुए कहा कि सरकार का रिपोर्ट कार्ड कई मोर्चों पर उम्मीदों को पूरा करने में विफल रहा है.

    उपरोक्ट ट्वीट में राहुल गांधी ने मोदी सरकार को कई मुद्दों पर फेल या फ्लॉप बताया है.
    कृषि में – F ग्रेड
    विदेश नीति में – F ग्रेड
    तेल की कीमतों में – F ग्रेड
    नौकरियों में – F

    नारे गढ़ने में – A+
    अपनी प्रोमोशन में – A+
    योग में – B-
    इसके बाद रिमार्क भी दिया है, जो कहता है – शानदार भाषणकर्ता, जटिल मुद्दों पर संघर्षरत और कम वक्त के लिए चर्चित होने वाले.

    कोहली का चैलेंज लिया, मेरा भी स्वीकार करो

    राहुल गांधी ने मोदी सरकार के #HumFitTohIndiaFit अभियान को भी नहीं बख्शा. उन्होंने लिखा-

    प्रिय पीएम,
    अच्छा लगा कि आपने विराट कोहली का फिटनेस चैलेंज स्वीकार किया. यहां मैं भी आपको एक चैलेंज कर रहा हूं:
    ईंधन की कीमतें कम करो, वरना कांग्रेस पार्टी देशव्यापी आंदोलन करेगी और आप पर ऐसा करने के लिए दबाव बनाएगी.
    मैं आपकी प्रतिक्रिया का इंतजार करूंगा. #FuelChallenge

    उपरोक्ट ट्वीट 24 मई को किया गया था मगर प्रधानमंत्री मोदी की तरफ से कोई उत्तर नहीं दिया गया.

    ताज़ा सर्वे में बीजेपी के लिए खतरा और कांग्रेस की पौ-बारह

    loading...