इस सीएम ने 1 दिन के धरने पर फूंक डाले जनता के सवा 11 करोड़

Chandrababu Naidu Dharna five star dharna

इन्‍फोपत्रिका डेस्‍क
आंध्रप्रदेश के मुख्‍यमंत्री चंद्रबाबू नायडू ने बीते सोमवार को नई दिल्‍ली में धरना दिया। क्‍या आपको मालूम है कि इस धरने पर कितनी रकम खर्च हुई। नहीं मालूम तो हम बता देते हैं। चंद्रबाबू नायडू ने इस पर लगभग सवा 11 करोड़ रुपए खर्च किए। वो भी सरकारी खजाने से। चंद्रबाबू के अनुसार ये धरना राज्‍य को विशेष दर्जा दिलाने को लेकर दिया गया लेकिन हकीकत यह है कि इसका मकसद कुछ और ही था।


Chandrababu Naidu Dharna five star dharna

पानी की तरह बहाया पैसा

अंग्रेजी चैनल टाइम्‍स नाउ के मुताबिक लोगों को आंध्रप्रदेश से दिल्‍ली लाने और राजधानी में ठहराने के लिए पानी की तरह पैसा बहाया गया। आंध्र से दिल्‍ली लोगों को लाने के लिए श्रीकाकुलम और अनंतपुर से दो ट्रेनें बुक की गईं। इनका किराया ही 1 करोड़ 12 लाख रुपए था। नई दिल्‍ली में आंध्र से आए लोगों को महंगे होटलों में ठहराया गया। इसके लिए करीब 1100 कमरे विभिन्‍न होटलों में बुक कराए गए थे।


ये भी पढ़ें- अपने PF खाते की डिटेल यूं करें चुटकियों में पता

जनता की गाढी कमाई से राजनीति चमकाई

चंद्रबाबू नायडू के इस धरने को देश की लगभग सभी विपक्षी पार्टियों ने समर्थन दिया था। धरने को भाजपा के खिलाफ विपक्षी एकता के मंच के रूप में प्रयोग किया गया। यहां आंध्र प्रदेश की जनता की समस्‍यों का उल्‍लेख कम हुआ और वर्तमान मोदी सरकार पर निशाना ज्‍यादा लगाया गया।

विरोध शुरू

Chandrababu Naidu Dharna five star dharna
टाइम्‍स नाउ पर जनता के धन की इस तरह धरने पर बर्बादी की खबर आने के बाद से ही तीखी प्रतिक्रिया हो रही है। भाजपा की आंध्रप्रदेश इकाई ने चंद्रबाबू की आलोचना करते हुए ट्विट किया है कि चंद्रबाबू के पास आंगनबाड़ी वर्करों का वेतन देने के लिए तो पैसा नहीं है और वे अपनी राजनीति चमकाने को सरकारी धन दोनों हाथों से उड़ा रहे हैं। वहीं YSR कांग्रेस ने कहा है कि यह संविधान का उल्‍लंघन है। यह जनता का पैसा है। धरने के लिए पैसा राजकोष से आ रहा है। वे ऐसा कैसे कर सकते हैं।

loading...