क्यों आता है हार्टअटैक? क्यों होता है ब्रेन स्ट्रोक? जानिए और बचें

heart attack

इन्फोपत्रिका, हेल्थ डेस्क>>

सेहतमंद रहने के लिए सबसे पहले यह जानना जरूरी है कि कोलेस्ट्रॉल है क्या बला? कोलेस्ट्रॉल (Cholesterol) रक्त में मौजूद वसा (फैट) है। मस्तिष्क, त्वचा और अन्य अंगों के विकास और इनके ठीक से काम करते रहने के लिए कोलेस्ट्रॉल जरूरी होता है।

कोलेस्ट्रॉल जरूरी है तो फिर इसे हव्वा क्यों बना रखा है?

आपका सवाल तो ठीक है। मगर आप ये नहीं जानते कि वसा एक लेवल तक ही ठीक है। एक लेवल से ज्यादा कोलेस्ट्रॉल के शरीर में मौजूद होने का मतलब है कि मौत साथ-साथ चल रही है। किसी भी वक्त दिल का दौरा (हार्टअटैक) या दिमागी दौरा (ब्रेन अटैक) आ सकता है।

दो तरह का होता है कोलेस्ट्रॉल

LDL और HDL दो तरह का कोलेस्ट्रॉल होता है। LDL को लो-डेन्सिटी लीपोप्रोटीन और HDL को हाई-डेन्सिटी लीपोप्रोटीन कहा जाता है।

1. बुरा वाला कोलेस्ट्रॉल

लो-डेन्सिटी लीपोप्रोटीन शरीर के लिए अच्छा नहीं होता। इससे प्लग का निर्माण होता है जोकि व्यक्ति की नसों (धमनियों) में रुकावट पैदा करता है। शरीर में जिस तरीके से रक्त का संचार होना चाहिए, इस कोलेस्ट्रॉल के चलते वैसा संचार हो नहीं पाता। धीरे-धीरे ये नसों में ज्यादा रुकावट पैदा करने लगता है, जिसके चलते दो चीजों का खतरा बनता है:-

1. हार्टअटैक अथवा दिल का दौरा – दिल काम करना बंद कर देता है।
2. ब्रेनअटैक अथवा दिमागी दौरा – इससे दिमाग काम करना बंद कर देता है।
ये दोनों ही मौत की वजह हैं। तो बहुत जरूरी है कि इनसे बचने के लिए आप अपनी कोशिश करते रहें।

2. अच्छा वाला कोलेस्ट्रॉल

HDL अथवा हाई-डेन्सिटी लीपोप्रोटीन से नसों में बाधा उत्पन्न करने वाला पदार्थ नहीं बनता। HDL कोलेस्ट्रॉल रक्तधमनियों (नसों) से कोलेस्ट्रॉल को हटाता है और इसे लीवर तक पहुंचा देता है। लीवर इस कोलेस्ट्रॉल को प्रोसेस करने के बाद शरीर से बाहर निकाल देता है।

ये भी पढ़ें- अजवायन से दूर होता है मोटापा, कैसे? क्लिक करके जानिए

ये भी पढ़ें- ये फूड हैं दिमाग तेज करने में बेहद कारगर

[related_post themes=”flat”]

loading...