भूलकर भी न निगलें इन फलों के बीज, जानलेवा सायनाइड होता है इनमें

इन्फोपत्रिका, हेल्थ डेस्क।

प्रकृति ने जो-जो भी रचा है, बहुत ही विधिपूर्वक रचा है। कोई भी चीज एक रत्ती भर भी इधर से उधर नहीं है। आज जिस विषय के संबंध में हम आपको बताने जा रहे हैं, उसे जानकर आपको भी अचम्भा होगा। अचम्भे के साथ-साथ एक ऐसी जानकारी भी मिलेगी, जो बेहद महत्वपूर्ण है और उसे जानना आपके लिए बेहद जरूरी है।

आज हम आपको फलों से जुड़ी कुछ बातें बता रहे हैं। कुछ फल ऐसे भी हैं, जिनके बीज में जानवेला ज़हर होता है। और ये फल दुर्लभ नहीं हैं, बल्कि आप इनमें से कोई-न-कोई फल प्रतिदिन खाते होंगे। ये फल हैं- सेब, खुबानी, आड़ू, चेरी और आलूबुखारा इत्यादी।

काम की बात- शारीरिक संबध बनाने से पहले क्यों धोएं हाथ?

सायनाइड होता है इन फलों के बीज में

इन फलों के बीज इतने ख़तरनाक होते हैं कि इंसान को बीमार कर सकते हैं और जान भी ले सकते हैं। दरअसल, इन फलों के बीजों में कुछ मात्रा में सायनाइड होता है। सायनाइड दुनिया का सबसे ख़तरनाक ज़हर है। इसके तरल को चखनेभर से इंसान मर जाता है। कहा जाता है कि आज तक कोई भी इंसान सायनाइड का स्वाद बता नहीं पाया है।

यदि आप हर दिन एक सेब खाते हैं तो कोशिश करें कि सेब का बीज कतई न खाएं। यदि आप सेब का बीज निगल लेते हैं तो बीज में मौजूद अमिग्डलिन नाम का तत्व पाचन संबंधी एन्जाइम के संपर्क में आता है और सायनाइड रिलीज करने लगता है। अमिग्डलिन में सायनाइड और चीनी होती होती है। जब ये हमारे शरीर में प्रवेश करता है तो ये हाइड्रोजन सायनाइड में बदलने लगता है। यहीं से ख़तरा शुरू होता है। इसलिए उपरोक्त फलों में से किसी भी फल का बीज नहीं खाना चाहिए।

हेल्दी फैक्ट- हाथ मिलाने से बेहतर है हाथ जोड़कर नमस्ते कहना, मगर क्यों? जानिए

प्रकृति ने बनाया है बेहद सुरक्षित

हालांकि सेब के एकाध बीज से ज्यादा परेशानी नहीं होती। एक अनुमान के मुताबिक़, सेब के 200 बीज का चूर्ण इंसान की जान ले सकता है। प्रकृति ने इस सभी फलों के बीजों पर बड़ी मजबूत कोटिंग की है। सेब का बीज निगल लेने के बाद पेट में जाकर आसानी से गलता नहीं है और शौच के माध्यम से ज्यों का त्यों बाहर निकल जाता है।

तो प्रकृति की बनाई चीजों को यूं ही न समझें और उसके नियमों का पालन करें। प्रकृति के विपरीत जाकर ही इंसान विनाश की तरफ अग्रसर होता है।

loading...