श्रीलंका से आई मानसून के बारे में अच्‍छी खबर

monsoon

इन्‍फोपत्रिका डेस्‍क


दक्षिण-पश्चिम मानसून के लिए श्रीलंका में परिस्थितियां अनुकूल बन गई हैं। श्रीलंका के मौसम विभाग ने कहा है कि देश में श्रीलंका में मानसून पहुंचने की औपचारिक तारीख 25 मई ही है और मानसून अपने तय समय पर वहां पहुंचा है। मानसून की तीव्रता अच्‍छी है। भारतीय मौसम विभाग भी मानसून पर पूरी नजर रखे हुए है। मौसम विभाग के एक अधिकारी का कहना है कि श्रीलंका में समय पर मानसून का पहुंचना एक अच्‍छा संकेत है और केरल के तट से भी मानसून के एक दिन पहले यानि 30 मई को टकरा सकता है।

monsoon
Image : Google

अच्‍छी है गति

भारत मौसम विज्ञान विभाग के मुताबिक मानसून अपनी गति से आगे बढ़ रहा है। इसके लिए बंगाल की खाड़ी के ज्यादातर हिस्सों में परिस्थितियां अनुकूल बन रही हैं। अगले 24 घंटों में यहां पर प्री-मानसून बारिश होने की संभावना है। हालांकि विभान ने पहले ही पूर्वानुमान जारी कर रखा है कि मानसून तय समय से पहले यानी 30 मई को यहां पर पहुंच सकता है। वैसे केरल में मानसून के पहुंचने की औपचारिक तारीख एक जून है।

अगले 24 घंटों के मौसम का हाल

भारत मौसम विज्ञान विभाग के मुताबिक 26 मई को उत्तराखंड, ओडिशा और तटीय आंध्र प्रदेश के कुछेक इलाकों में तेज हवाओं के साथ बारिश होने के आसार हैं।
पश्चिमी उत्तर प्रदेश, बिहार, तटीय कर्नाटक और दक्षिणी आंतरिक कर्नाटक के कुछेक हिस्सों में धूल भरी आंधी के साथ हल्की बारिश होने की संभावना है।
उप-हिमालयी पश्चिम बंगाल, सिक्किम, असम, मेघालय, दक्षिणी आंतरिक कर्नाटक और अडमान-निकोबार द्वीप समूह के भी कुछेक हिस्सों में तेज बारिश हो सकती है।
उत्तर भारत समेत देश के कई हिस्से गर्म हवाओं की चपेट में रह सकते हैं। मध्य प्रदेश, विदर्भ और तेलंगाना में कहीं-कहीं गर्म हवाएं चलेंगी।

loading...